Sunday, 5 July 2015

41th Summit of G-7

जी-7 (G-7) का 41वां शिखर सम्मेलन
============================
1. 7-8 जून, 2015 तक ‘स्क्लॉस एल्माउ’ (Schloss Elmau) जर्मनी में जी-7 के 41वें शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया।
2. जी-7 के 41वें शिखर सम्मेलन का आदर्श वाक्य ‘थिंक अहेड, ऐक्ट टुगेदर’
(Think Ahead, Act Togehter) था।
3. उल्लेखनीय है कि 4-5 जून, 2014 को ब्रुसेल्स में आयोजित जी-7 के 40वें
शिखर सम्मेलन में जर्मनी को 41वें शिखर सम्मेलन की अध्यक्षता सौंपी गयी
थी।
4. इसके पूर्व वर्ष 1978, 1985, 1992, 1999 और 2007 के जी-7 शिखर
सम्मेलनों का आयोजन जर्मनी में किया गया था।
5. गौरतलब है कि 24 मार्च, 2014 को जी-7 के देशों द्वारा एक घोषणा-पत्र के
माध्यम से जून, 2014 में सोची (रूस) में आयोजित होने वाले 40 वें शिखर
सम्मेलन का बहिष्कार किया गया।
6. घोषणा-पत्र में जी-8 प्रारूप को भी निलंबित कर दिया गया था।
7. इसका कारण रूस द्वारा यूक्रेन की संप्रभुता एवं स्वतंत्रता का उल्लंघन था।
8. ध्यातव्य है कि जी-7 विश्व के प्रमुख औद्योगिक देशों के मध्य आर्थिक एवं
राजनीतिक सहयोग का एक अनौपचारिक समूह है।
9. जी-7 को कोई संविधान और प्रशासनिक ढांचा नहीं है।
10 जी-7 की अध्यक्षता ग्रहण करने वाला देश ही अध्यक्षता अवधि के लिए एजेंडा तैयार करता है।
11. ज्ञातव्य है कि वर्ष 1975 में विश्व के पहले तेल संकट एवं वित्तीय संकट के दौरान
12. 6 बड़े औद्योगिक देशों, सं.रा.अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, फ्रांस, इटली,
पश्चिम जर्मनी एवं जापान द्वारा जी-6 की स्थापना की गई।
13. वर्ष 1976 में जी-6 में कनाडा के शामिल होने से यह जी-7 हो गया।
14 वर्ष 1994 में जी-7 में रूस के शामिल होने से यह वर्ष 1997 से जी-8 के नाम से भी जाना जाने लगा।

0 comments:

Post a Comment