Thursday, 21 January 2016

About cell biology in hindi

(कोशिका विज्ञान)



*जीवद्रव्य*
01.जीवद्रव्य का नामकरण पुरकिंजे(Purkenje) के द्वारा सन् 1839 ई0 में किया गया।

02.जीवद्रव्य एक तरल गाढ़ा रंगहीन, पारभासी, लसलसा, वजनयुक्त पदार्थ है, जीव की सारी जैविक क्रियाएँ इसी के द्वारा होती है।

03.जीवद्रव्य(Protoplasm)को जीवन का भौतिक आधार कहते है।

04.जीवद्रव्य दो भागों में बँटा होता है---कोशिका दव्य(Cytoplasm), केन्द्रक द्रव्य(Nucleoplasm) ।

05.जीवद्रव्य का 99% भाग चार तत्वों से मिलकर बना होता है।

1.ऑक्सीजन(76%) 2.कार्बन(10.5%)
3.हाइड्रोजन(10%)
4.नाइट्रोजन(2.2%)

06.जीवद्रव्य का लगभग 80% भाग जल होता है।

07.जीवद्रव्य में अकार्बनिक एवं कार्बनिक यौगिकों का अनुपात 81:19 का होता है।

कोशिका

08.कोशिका(Cell) जीवन की सबसे छोटी कार्यात्मक एवं संरचनात्मक इकाई है।
,
09.कोशिका के अध्ययन के विज्ञान को Cytology कहा जाता है।
,
10.कोशिका शब्द का प्रयोग सर्वप्रथम अंग्रेज वैज्ञानिक रॉबर्ट हुक ने सन् 1665 ई0 में किया था।
,
11.सबसे छोटी कोशिका जीवाणु Mycoplasm gallisepticuma की है।
,
12.सबसे लम्बी कोशिका तंत्रिका-तंत्र की कोशिका है।
,
13.सबसे बड़ी कोशिका शुतुरमुर्ग के अंडे (Ostrich egg) की कोशिका है।
,
14.कोशिका सिद्धान्त का प्रतिपादन 1838-39 ई0 में श्लाइडेन और श्वान ने किया

0 comments:

Post a Comment