Friday, 11 December 2015

Scientific equipment and their use: -

वैज्ञानिक उपकरण और इनके उपयोग:-

1. स्पीडो मीटर -यह गति को प्रदर्शित करता हैजो कीकार ट्रक आदि वाहनों के अंदर लगा होता है .

2.सबमेरीन -पानी के अंदर चलने वाला छोटा जलयानहैजिसकी सहायता से समुद्र की सतह पर होने वाली हलचलका भी ज्ञान होता रहता है .

3.स्फेरोमीटर -गोलिय तल की वक्रता त्रिज्याज्ञातकरने के काम आता है .

4.विस्कोमीटर -द्रव की श्यानता ज्ञात करने के काम

5.टेली फोटोग्राफी -इसकी सहायता से गतिशीलवस्तु काचित्र दूसरे स्थान प्रदर्शित किया जा सकता है .

6.टेलेक्स -इसके अंतर्गत दो स्थानों के मध्य समाचारोंकासीधा आदान प्रदान होता है .

7.टेलस्टार -यह अंतरिक्ष मे स्थित ऐसा उपकरण हैजिसकीसहयता से महाद्वीपों के आर पार टेलीविजन तथा
बेतार प्रसारण भेजे जाते है

8. थर्मोस्टैट-इसके प्रयोग से किसी वस्तु का तापनिश्चितबिंदु तक बनाये रखा जा सकता है .

9.थियोडोलाईट-यह अनुप्रस्थ तथा लम्बवत कोणोंकीमाप ज्ञात करने के काम आता है .एक्टिओमीटर -सूर्य किरणों की तीव्रता कानिर्धारणकरने वाला उपकरण

10.होवरक्राफ्ट -एक वाहन जो वायु की मोटी गद्दीपरचलता है ..यह साधारण भूमि ,दलदली ,बर्फीलेमैदानों
,रेगिस्तानो पर तीव्र गति से भाग सकता है .

11.टेकोमीटर -यह वायुयानो तथा मोटर नावों कीगतिको मापने वाला उपकरण है .

12.अक्युम्युलेटर -इसके द्वारा विद्युत उर्जा कासंग्रहकिया जाता है ..विद्युत की आवश्यकता पड़ने परकाम मे
लिया जाता है .

13. एयरोमीटर -इस का प्रयोग वायु एंवम गेस काभार तथाघनत्व ज्ञात करने मे किया जाता है .

14.अल्टीमीटर -उड़ते हुए विमान की ऊँचाई ज्ञातकरने केलिए किया जाता है .

15.अमीटर -विद्युत धारा को मापने के लिए कियाजाता है

16.अनिमोमीटर -यह हवा की शक्ति तथा गति कोमापताहै.

17.कम्पास बॉक्स -किसी स्थान पर उत्तर दक्षिणदिशाका ज्ञान होता है .

18.साइक्लोटरोन-इसकी सहायता से आवेशित कण जेसेइलेक्ट्रोन प्रोटोन आदि को त्वरित किया जाताहै .

19.डीक्टाफोन -इसका उपयोग अपनी बात आदेश दूसरेव्यक्ति को सुनाने के लिए रिकॉर्ड किया जाता है
..यहप्राय ऑफिस मे प्रयोग किया जाता है .

20. डाइनेमोमीटर -इसका प्रयोग इंजन द्वाराउत्पन्न की गई शक्ति को मापने मे होता है .

21.एपीडास्कोप-इसका प्रयोग चित्रों को परदे परप्रक्षेपण के लिए किया जाता है

22.फेदोमीटर -समुंद्र की गहराई नापने के काम आताहै .

23.बेरोग्राफ -इसके द्वारा वायु मंडल के दाब मे होनेवालेपरिवर्तन को मापा जाता है .

24.बैरोमीटर -वायु दाब मापने के काम आता है .

25.बाईनोक्युलर-यह उपकरण दूर की वस्तुए देखने केकामआता है .

26.केलिपर्स -बेलनाकार वस्तुओ के अंदर तथा बाहर केव्यासमापे जाते है . तथा इस से वस्तु की मोटाई भी मापी जाती है

27.कार्डियोग्राम -इसके द्वारा हृदय गति की जांचकीजाती है.

28.क्रोनोमीटर -यह उपकरण जलयानो पर लगाहोता हैइस से सही समय का पाता चलता है .हायग्रोमीटर वायुमंडल मे व्याप्त आद्रता मापीजाती है .

29.पायरोमीटर -दूर स्थित वस्तुओ के ताप को ज्ञातकरनेहेतु इस यन्त्र का प्रयोग किया जाता है .

30.CYTROTRON -यह कृत्रिम मोसम उत्पन करने के कामआता है .

31स्क्रूगेज -इसका प्रयोग बारिक तारों के व्यासनापने के काम आता है .

32.हायड्रोफोन -पानी के अंदर ध्वनि तरंगों कीगणना करनेमे काम आने वाला उपकरण .


33.सेफ्टी लेम्प -यह प्रकाश के लिए खानों म उपयोगहोनेवाला उपकरण ..इसकी सहायता से खानों मे होने वाले विस्फोट को बचाया जा सकता है .

0 comments:

Post a Comment